SDev Thoughts

by Swati Dev
Clear
-
+

Product Description

Swati Dev is a Business graduate, HR professional based out of Delhi has her heart always longing for Mountain and Sea. She is debuting with anthology of her quotes in form of this book named SDev Thoughts. Her goal is to get to the heart and soul of readers with her broken language and day to day experience about life, friendship, relationships, and Love.

Share

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

Front-1-1-scaled-1.jpg

Applause

by Multiple

A collection of poems and stories of 52 writers, Applause is single stop for all genres, ranging from romance to horror, fiction and reality. Having all what a reader wants in a book, Applause is a collection which is unputdownable. So, come along and explore this journey of words, and in the end we are sure you’ll make an Applause!

Share
WG-I-72-Front-scaled-1.jpg

Qafila

by Paridhi Joshi

Paridhi Joshi is a 3D Animator by profession but a writer by heart. It took her one calm long night to realize her hidden potential when she couldn’t stop her pen from scribbling down her feelings in her notebook. Writing, since then, has been more than just a hobby to her. Qafila, being her debut novel holds a special importance in her life. A collection of 100 odd shayaris, Qafila holds the feelings of the people who are living far away from their home and how they feel about life, wrapped up in Paridhi’s words. It is a journey of how life revolves around when you move to a new city far from your loved ones, fighting your own battles just to survive.

Share
Front-49-scaled-1.jpg

Paati Neh Bhari

by Praduman Kumar Dubey

जोड़ कर हर लम्हा अपनी जिन्दगी का
लिखा है मैंने यह पाती नेह भरी

इस भाव को अपने मन में लिए श्री प्रद्युम्न ने अपने जीवन की समस्त घटनाओं, समस्याओं, मुकाम, ऊँचाइयों और जज्बात को बहुत ही सरल एवं रोचक शैली में कविताओं के रूप में इस किताब ‘पाती नेह भरी‘ में एकत्रित किया। इस किताब में लिखी गयी हर कविता एक प्रेम भरा खत है जो की उस विचार को व्यक्त कर रहा है जिसे प्रद्युम्न जी ने अपने सफर में हर छोटे-बड़े मोड़ पर महसूस किया। चाहे वह परिस्थिति कठिन रही या जीवन का सबसे खूबसूरत लम्हा, प्रद्युम्न जी ने सामान रूप से साहस, शीतलता एवं निडर हो कर उसका सामना किया और यही कारण है की इस किताब का शीर्षक है ‘पाती नेह भरी‘ और प्रत्येक कविता में उस प्रेम भाव को पाठक बहुत ही सरलता से महसूस करता है और उसका हृदय आनंदित हो उठता है।

Share
Front

Mijaaz

by Tanushree Pathak

About the book

कहते है तजुर्बों को दर्शाना नहीं है आसान, पर जब आप पढ़ेंगे ये किताब, तो जुड़ जायेंगे मेरे शब्दों के साथ। कुछ शायरियां देंगी दिलों को सुकून, तो कुछ हो सकता है दे थोड़ा दर्द, पर सुकून और दर्द को मिला कर ही होता है तजुर्बा, मिजाज़ को पढ़ कर जोड़ लेंगे आप अपनी ज़िन्दगी की कहानियाँ । कैसे बीती वो रातें , कैसे बीतें वो दिन, कभी ख़ुशी मिलेगी, तो कभी आँसुओं को करेंगे महसूस। ये किताब याद दिलाएगी आपको वो वक़्त, जब आप अपनी ज़िन्दगी को समझते समझते, कई जज़्बातों को महसूस करते रहे, और आगे बढ़ते रहे। ज़न्दगी को समझते समझते शायरा बन गयी, अब तो मानो अपने एहसासों को बयान करने का बस यही एक तरीका है।

About the author

ज़िन्दगी को समझते समझते शायरा बन गयी, अब तो मानो अपने एहसासों को बयान करने का बस यही एक तरीका है। कब लिखते लिखते शब्द शायरी में बदल गए पता ही नहीं चला, बस तबसे लोग मुझे शायरा कहने लगे। कोशिश करती हूँ कुछ नया और बेहतर लिखने की, पर शायरी कोशिश से नहीं तज़ुर्बे से आती है , तो आज आपके सामने इस किताब के ज़रिये मैं अपने तजुर्बे बयान कर रही हूँ, हो सके तो सराहियेगा ।

Instagram : @blendofsentiments Email: tanushree.pthk@gmail.com

Share
Front-11.png

Safar

by Srishti Garg

Safar is a hindi poetry anthology curated by Srishti Garg, giving wings to the talent of 17 budding writers. Safar is a unique blend of poems and shayaris touching upon various themes and issues.

Share
Front

Shades of Humanity

by Nikita Singh

Shades of Humanity, a collection of 40 poems will take you back to look into every face of life and humans. Each poem will reach back to your heart and mind, leading to a reflecting back to ones own journey .It will be a process of diving deep into the world and word ‘humanity’ reading life through poetic senses.

Share