Memories of a Millennial

by Samman Roy
Clear
-
+

Product Description

In this collection of stories set in the timeline of SAMMAN ROY’s growing up years, he recounts stories from his own life and the lives he had seen around him; stories of teenage crushes, unrequited love, unrecognized virtues and even adventures involving the supernatural. Being a millennial born, he encapsulates the experiences of the post-neo-liberalized India he has seen in the first 25 years of his life in the garb of short, imaginative tales.

Share

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

You May Also Like

.
Front-56-scaled-1.jpg

Faani- Alfaaz-e-mohabbat

by Aashi Vaishnav

चितौड़गढ़ (राजस्थान) की निवासी, लेखिका आशी पेशे से एक विद्यालय में अध्यापिका हैं । आशी को काव्य में अत्यंत रूचि है । इनका मानना है की कविताओं एवं शायरी के ज़रिये इंसान अपने सारे जज़्बात बेहद आसानी से खामोश रह कर भी व्यक्त कर सकता है । अपनी भाग दौड़ वाली ज़िन्दगी में से कुछ बेशकीमती पल निकाल कर आशी ने इस किताब ’फानी’ की रचना की है । इस किताब में मुख्य रूप से आशी की चुनिन्दा शायरियाँ और कविताएँ हैं जो की विभिन्न मसलों एवं भावनाओं को व्यक्त करती हैं ।

Share
Front-6.jpg

Second Chances

by Rajratan

I decided to write this book when I was in the darkest phase of my life, when I was close to killing myself, I was failed, disappointed, misunderstood, unloved. Some people die because of these reasons. I hope this book will help them. Not everyone is lucky enough to change their lives the way they want. Not everyone has the freedom like you. Life gives you hurdles, it is upto you whether you sit and cry or fight with the situation to live the great life you are destined to live. This book is for parents, students, women, men, fathers & mothers. Till the time you realize what you have been doing wrong, it is too late. This book is to just push you a little towards your good life. The most important part of life is living, live happily.

– Rajratan Gulab More

Share
Front-1.png

Faarigii

by Dr. Vijay Shankar

फ़ारिगी’ हिंदी कविताओं और उर्दू शायरी का एक संग्रह है, जो की डॉ विजय शंकर द्वारा लिखीं गयीं हैं।

‘फ़ारिग’ उनका तख़ल्लुस है और इस ही नाम से वो अपनी रचनाओं को कागज़ पर उतारा करते थे। उनके लिए लिखना रोज़ मर्रा की बात थी यही और उनका एक खास वस्ल भी था। हमनें २००९ में उनके चले जाने के बाद उनकी कई डायरियों का पुरज़ोर अध्ययन किया। यह डायरियाँ उनके पूर्ण जीवन काल भर में लिखीं गयीं कविताओं और शायरी का खज़ाना था जिन्हें एक किताब की शक्ल दी गयी है। उनकी शायरी में ज़िक्र है कई ऐसे ख़यालों का जो उनके जीवन के तजुर्बे की झलक भी देते हैं और उनकी शख्सियत की परिभाषा भी बताते हैं।

उनकी शायरी में बखान है खुदा और इश्क़ का। मगर वो चीज़ जो उन्हें बाकी शायरों से जुदा करती है, वो है उनकी वो रचनाएं जो विज्ञान और पर्यावरण के कुछ अनछुए मगर महत्वपूर्ण पहलू जिन्हें पढ़ कर शायद ज़माने को एहसास हो, कि उन छोटी छोटी चीजों में क्या खूबसूरती विराजमान है। चाहे फिर वो शरीर के खून के प्रवाह का तरीका हो, या डीएनए के बनने की सामग्री का बखान हो। कुछ बेहद नए और हैरान कर देने वाले वैज्ञानिक शाखाओं पर रोशनी डालती है उनकी शायरी।

और उनकी किताब का एक बहुत बड़ा हिस्सा गंगा को भी प्रकाशित करता है। गंगा के लिए उनका प्रेम असीम था। और उनकी कई कविताएं और शायरी गंगा के इर्द गिर्द टहलती हैं। अगर आपने गंगा स्नान किया है, तो शायद उनके लफ़्ज़ आपको एक सिहरन से नवाज़ दें।

फ़ारिग साहब के व्यक्तित्व को अपने लफ़्ज़ों में बता पाना सूरज को दीप दिखाने के तुलनीय है। इसलिए इस किताब का होना बहुत महत्वपुर्ण है क्योंकि फ़ारिग साहब के लफ़्ज़ों से ज़्यादा बेहतर उनके बारे में कोई नहीं बता सकता।

Share
Front-42-scaled-1.jpg

The Truth Can't Be Hidden

by Gopi Manoj

Datta, an 18 year old boy who always dreams of winning U-19 cricket world cup for his country gets admitted into IIT to pursue his graduation. He meets his old friends Heidi and Kishore at the IIT. One day his father tells him that his life was in danger and gives him a wooden box which has some secret hidden in it. As time passed, his parents were killed brutally by Dr. J. Datta has decided to reveal the secret in the box and put Dr. J behind the bars. Will Datta catch Dr. J? Will Datta find the hidden secret in the box? Will he achieve his dream?

Share
Front-5-scaled-1.jpg

Tankha - Ek Varta Sangrah

by Rajkumar Bhatt & Dr Sagar Pandya

ડૉ. સાગર પંડયા’ વ્યવસાયે એક અંગ્રેજી ભાષાના શિક્ષક છે પરંતુ ગુજરાતી તેમની માતૃભાષા હોવાને કારણે ગુજરાતી વાર્તાઓ અને કવિતાઓ લખવા ઉપરાંત ભાષાંતર ઉપર પણ સારી એવી પકડ છે. તેમણે આ પહેલા પણ અંગ્રેજી, હિન્દી તેમજ ગુજરાતી ભાષામાં પદ્ય તથા ગદ્ય ક્ષેત્રે સર્જનકાર્ય કરેલું છે. આશા છે કે તેમનું આ પુસ્તક વાચકોને પસંદ આવશે અને આ સંગ્રહમાં ચૂંટેલી વાર્તાઓ તેમને આનંદની અનુભૂતિ કરાવશે. આ પુસ્તક વિષે વાચકો તેમના પ્રતિભાવો લેખકને જણાવશે તો ચોક્કસ તેમને સંતોષની લાગણી થશે.. . .

રાજકુમાર ભટ્ટ વ્યવસાયે ભાષાના શિક્ષક છે. તેમનું લેખન ક્ષેત્રે આ પ્રથમ વારનું ખેડાણ છે. આ વાર્તાસંગ્રહમાં તેમણે કેટલીક સ્વાનુભવ અને કાલ્પનિક ટૂંકીવાર્તાઓ રજૂ કરી છે. વાચક વર્ગની રુચિ અનુસાર લખેલી વાર્તાઓ નિઃશંકપણે તેમના હૃદયના તાર ઝણઝણાવી મુકશે. વાચકો તેમના પ્રતિભાવો લેખકને ચોક્કસ જણાવે.

Share
Front-Cover-scaled-1.jpg

Safarnama

by Janhavi Bhat

‘सफरनामा’ जान्हवी भट द्वारा रचित हिंदी कविताओं और उर्दू शायरी का एक अनूठा संग्रह है। इनमें से कई कविताओं की रचना विविध काव्य सम्मेलनों की पार्श्वभूमी पर की गयी थी। वहीं दूसरी ओर उर्दू शायरी का निर्माण महज़ उर्दू अल्फाज़ सीखने की मंशा से हुआ था। सोशल मीडिया के उपयोग द्वारा ऐसे अनगिनत प्रयोगों को अतुलनीय प्रोत्साहन मिलता रहा। और यह रचनाएँ काफी समय तक डायरी के पन्नों में दबी रही। इनको प्रकाशित करने की प्रेरणा जान्हवी भट को डॉ. शैलेंद्र गायकवाड से मिली जिन्होंने उनकी अनेक कविताओं को खूब सराहा। इस संग्रह में बखान है एक सफर का जो प्रेम, विरह, इंतज़ार, अपेक्षा एवं ज्ञान से भरपूर है। नवरसों का उपयोग काफी मात्रा में किया गया है। कविताओं में मार्मिकता है जो आजकल कम पढ़ने मिलती है। इनकी कविताएँ विविध दृष्टिकोणों को दर्शाती हैं। प्रकृति और उसके अनेक हिस्सों का भी प्रयोग इनमें किया गया है। अंग्रेज़ी कविता संग्रह के पशच्यात हिंदी काव्य जगत में ‘सफरनामा’ जान्हवी का प्रथम पद है।

Share